Wednesday, December 21, 2011

प्यार भरी बातें


हो दिन या हो रात 
है प्यारा साथ तुम्हारा 
प्यार ही प्यार हो तुम
देखा प्यार तुम्हारा

बड़ी अच्छी लगती हैं 
बातें प्यार की और प्रिय.. तुम  
बड़े अच्छे लगते हैं 
ये धरती ,नदिया ये रैना और .. तुम 

इंतज़ार प्रियतम का 
बिछोह सहा ना जाए 
जो मिल जाएँ सनम 
तो फूल  भी गुनगुनाएँ 

ये सब प्यार की बातें 
ये प्यार भरी बातें 
इज़हार की बातें 
इकरार की बातें 
वफ़ादारी की दास्तान 
और बेवफाई की बातें 

प्यार भरी लाइनों को 
चाहता है पढ़ना हर कोई 
प्यार में डूबे शब्दों को 
पी लेना चाहता है हर कोई 

प्यार पर कुछ लिखा
तो शब्दों में रस घुले 
लोग पढ़ें , दाद दें 
सपनों की दुनिया में चलें 

प्यार प्रधान है जीवन हमारा 
प्यार आधार प्यार मक़सद हमारा 
इसलिए अच्छी लगें बातें प्यार की
करो प्यार, ना मिलेगी ज़िंदगी दोबारा 
...रजनीश (21.12.2011)

25 comments:

Roshi said...

प्रेम की सुंदर रचना ..............

sushmaa kumarri said...

bhaut pyari rachna.....

mridula pradhan said...

bhawbhini......

प्रवीण पाण्डेय said...

प्रेम बने जीवन आधार।

vandan gupta said...

बहुत सुन्दर रचना।

Anita said...

प्यार ही राही है...प्यार ही रस्ता है... प्यार ही मंजिल है..

यशवन्त माथुर (Yashwant Raj Bali Mathur) said...

बहुत ही खूबसूरत कविता।


सादर

यशवन्त माथुर (Yashwant Raj Bali Mathur) said...

कल 23/12/2011को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

Anonymous said...

अच्छी है पोस्ट बीच में फ़िल्मी गाने और उनके नाम भी रोचक हैं |

Pallavi saxena said...

बहुत सुंदर रचना ...समय मिले कभी तो आयेगा मेरी पोस्ट पर आपका स्वागत है
http://mhare-anubhav.blogspot.com/
http://aapki-pasand.blogspot.com/2011/12/blog-post_19.html

रेखा said...

वाह ...बहुत ही खुबसूरत रचना

अनामिका की सदायें ...... said...

pyar par ek badhiya rachna.

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') said...

मिल जाए सनम तो
फूल भी गुनगुनाएं....

बहुत सुन्दर रचना...
सादर बधाई...

आशु said...

रजनीश जी,

बहुत खूब लिखा है प्रेम पर..सच ही तो है प्रेम नहीं तो जिंदगी में कुछ भी तो नहीं है..
आशु

आशु said...

रजनीश जी,

बहुत खूब लिखा है प्रेम पर..सच ही तो है प्रेम नहीं तो जिंदगी में कुछ भी तो नहीं है..
आशु

Atul Shrivastava said...

सुंदर रचना।
गहरे भाव....

मेरा मन पंछी सा said...

bahut sundar pyarbhari pyari rachana.....

सदा said...

वाह ...बहुत ही बढि़या।

vidya said...

बहुत प्यारी..प्यार भरी रचना...
बधाई.

Unknown said...

प्रेममयी रचना ~!!

Kewal Joshi said...

सुन्दर भाव.

Santosh Kumar said...

बहुत सुन्दर..

प्यार की बातों पर मैंने भी कुछ लिखा है, मेरे हिंदी ब्लॉग पर आयें.

www.belovedlife-santosh.blogspot.com

ASHOK BIRLA said...

intajaar priyatam ka, bichoh shaha na jaye , jo mil jaye to fool bhi gungunaye ....prem ka prem se varnaan ...hriday par chaap chodta kavya

Amrita Tanmay said...

खूबसूरत कविता

Anonymous said...

Your style is so unique in comparison to other people
I have read stuff from. Thanks for posting when you have the opportunity, Guess I'll just bookmark this web site.
Here is my homepage - how it works

पुनः पधारकर अनुगृहीत करें .....