Tuesday, May 30, 2017

वक्त-वक्त की बात है

वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त खोया कभी वक्त पाया
कभी वक्त ज्यादा कभी वक्त कम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त भूला कभी उसे भुलाया
कभी जोश ज्यादा कभी होश गुम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त रूठा कभी वक्त गाया
कभी हंसी गूँजी कभी आंख नम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त छूटा कभी लौट आया
कभी वक्त आगे कभी आगे हम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त भारी कभी वक्त भाया
कभी वक्त हारा कभी हारे हम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त साथी कभी वक्त ने मारा
कभी जान आयी कभी निकला दम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त ने रोका कभी हमें  भगाया
कभी नमक ज्यादा कभी चीनी कम
वक्त-वक्त की बात है
कभी वक्त रोया कभी वक्त रुलाया
कभी तुम हमारे  कभी अपना गम
वक्त-वक्त की बात है
हम वही हैं तुम वही हो
बस दिन कभी , कभी रात है
वक्त-वक्त की बात है,  वक्त-वक्त की बात है
                                             .....................रजनीश (30/05/17)

1 comment:

HARSHVARDHAN said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन विश्व तम्बाकू निषेध दिवस और ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

Recent Posts

पुनः पधारकर अनुगृहीत करें .....