Tuesday, September 27, 2011

एक और पड़ाव

p80_180911 002
(अपने ही जन्म दिवस पर ...)
बीतते जाते साल दर साल
एक दरख़्त बढ़ता जाता है
और नए नए रास्ते
मेरी झोली में गिरते जाते हैं
हर साल थोड़ा और जान लेता हूँ
ज़िंदगी को और हर साल पड़ाव पर
कुछ नए सवाल नज़र आते हैं
नहीं बढ़ती उम्र पूरी
उम्र का एक सिरा
ठहरा  रहता एक मुकाम पर
बदलते हैं कैलेंडर के पन्ने
पर  वो अब भी वहीं टंगा
उसी दीवार पर
हर साल कुछ पंखुड़ियाँ
और खुल जाती हैं
कुछ पत्ते हर साल झड़ते जाते हैं
एक तस्वीर की सूरत हर साल बदल जाती है
और वक्त की परतें फ्रेम पर चढ़ती रहती हैं
अभी भी चलते हैं सपने
नहीं थके अब तक
एक बच्चा
आज भी कोशिश करता है
महसूस करने , छू लेने की
पहचान लेने की
जान लेने की
जैसे आज ही लिया हो जन्म
हो जैसे ये एक नई शुरुआत ...
....रजनीश (27.09.2011)

23 comments:

sushma 'आहुति' said...

एक बच्चा
आज भी कोशिश करता है
महसूस करने , छू लेने की
पहचान लेने की
जान लेने की
जैसे आज ही लिया हो जन्म
हो जैसे ये एक नई शुरुआत ...bhaavpurn rachna....

रविकर said...

सुन्दर प्रस्तुति पर
बहुत बहुत बधाई ||

वन्दना said...

आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
प्रस्तुति आज के तेताला का आकर्षण बनी है
तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
अवगत कराइयेगा ।

http://tetalaa.blogspot.com/

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

जन्मदिन की बधाई ... सुन्दर प्रस्तुति

रश्मि प्रभा... said...

shuruaat hamesha nai lage aur safal ho .... janmdin ki shubhkamnayen

kanu..... said...

जैसे आज ही लिया हो जन्म
हो जैसे ये एक नई शुरुआत ...
bahut sundar

Dr (Miss) Sharad Singh said...

बेहद उत्कृष्ट रचना... हार्दिक बधाई.

Anita said...

जन्म दिन की बहुत बहुत शुभकामनायें ! उम्र कितनी भी हो जाये मन में एक बचपन सदा रहता है..जो आगे बढने को उकसाता है, कुछ नया सीखने को मजबूर करता है...

प्रवीण पाण्डेय said...

बधाई हो, जन्मदिन को आत्मावलोकन के रूप में लेने के लिये।

Kailash C Sharma said...

एक बच्चा
आज भी कोशिश करता है
महसूस करने , छू लेने की
पहचान लेने की
जान लेने की
जैसे आज ही लिया हो जन्म
हो जैसे ये एक नई शुरुआत

....जन्मदिन पर बहुत गहन आत्मावलोकन...बहुत सुन्दर अहसास. जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं !

रेखा said...

जन्मदिन की बहुत -बहुत बधाई

आशा said...

इसी तरह हर साल जन्मदिन आए और आत्म चिंतन और मनन आपको और सम्रद्ध और्बनाए |
मैं आपके ब्लॉग पर पहली बार आई हूँ |कविता बहुत अच्छी लगी |
बधाई |
आशा

Saru Singhal said...

Happy Birthday Sir and great poem to celebrate the day.

Saru

induravisinghj said...

जन्मदिन की बहुत -बहुत बधाई
सुन्दर प्रस्तुति...

रचना दीक्षित said...

जन्म दिन की बहुत शुभकामनायें. जन्म दिवस पर सुंदर रचना आनंद को और बढ़ा रही है. बधाई एक बार फिर.

Anil Avtaar said...

आपको मेरी तरफ से नवरात्री की ढेरों शुभकामनाएं.. माता सबों को खुश और आबाद रखे..
जय माता दी..

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति वाह!

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...





आपको सपरिवार
नवरात्रि पर्व की बधाई और शुभकामनाएं-मंगलकामनाएं !

-राजेन्द्र स्वर्णकार

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...

.



आपको जन्मदिवस की भी बहुत बहुत शुभकामनाएं और बधाई !

दिगम्बर नासवा said...

उम्र के किसी भी पड़ाव में अगर ये बच्चा जीवित रहे तो जीवन में आनंद आ जाता है ... जनम दिन मुबारक रजनीश जी ..

नव रात्री की मंगल कामनाएं ..

रजनीश तिवारी said...

शुभकामनाओं हेतु आप सभी का तहे दिल से शुक्रिया ...

Udan Tashtari said...

देर से सही: आपको जन्मदिवस की भी बहुत बहुत शुभकामनाएं और बधाई !

रजनीश तिवारी said...

@समीर लाल जी , शुभकामनाओं के लिए हार्दिक धन्यवाद

Recent Posts

पुनः पधारकर अनुगृहीत करें .....